कोरोना संक्रमित 18 माह की बेटी के साथ 20 दिन एक बेड पर रहकर भी मां संक्रमण से बची रही। अपनी तरह की यह पहली घटना चंडीगढ़ पीजीआई में सामने आई। पीजीआई इस पर रिसर्च करवाएगा कि इतने करीब रहकर भी मां संक्रमण से कैसे बची। 18 माह की चाहत 20 अप्रैल को संक्रमित मिली थी। मां सीजर 20 दिन तक पीजीआई में बेटी के साथ ही।

17 दिन में तीन बार बेटी की रिपोर्ट पॉजिटिव आई

17 दिन में तीन बार बेटी की रिपोर्ट पॉजिटिव आई। लेकिन, मां की रिपोर्ट हर बार निगेटिव रही। शनिवार को बेटी की रिपोर्ट निगेटिव आने के बाद छुट्‌टी दे दी गई। कोविड सेंटर के डॉ. रश्मि रंजन गुरु ने कहा कि मां का इम्यून सिस्टम मजबूत रहा। उन्होंने मास्क लगाए रखा और बार-बार हाथ धोती रहीं। बच्ची को खांसी-जुकाम नहीं होने के कारण ड्रॉपलेट मां तक नहीं पहुंचे।




Post a Comment

Previous Post Next Post