लॉकडाउन के चौथे फेज में बंदिशों में ढील दी गई है। देशभर में इसका असर दिखने लगा है। दिल्ली में 2 महीने के बाद जब पार्कों के गेट पर लटक रहे ताले खुले तो सुबह 7 बजे से ही टहलने वालों का हुजूम उमड़ पड़ा। नई दिल्ली म्यूनिसिपल कॉर्पोरेशन ने कहा, ‘एनडीएमसी इलाके में पार्कों और बगीचों को खोलने का फैसला किया गया ताकि लोग घूम-फिर सकें, व्यायाम कर सकें। इनमें नेहरू पार्क, लोधी गार्डन, तालकटोरा गार्डन शामिल हैं। सुबह 7 से 10 बजे तक और शाम को 3:30 से 6:30 बजे तक यह खुले रहेंगे। प्रशासन ने इन पार्क में आने वाले लोगों के लिए मास्क अनिवार्य किया है। वॉक के दौरान लोग इसका पालन करते दिखे। पार्कों में ओपन जिम की इजाजत नहीं है। दिल्ली के लोधी गार्डन में सुबह 7 बजे ही लोग पहुंच गए थे। इनका कहना था कि लंबे वक्त के बाद खुली हवा में सांस ली।

तस्वीर बेंगलुरु के एक सैलून की है। दो महीनों केलॉकडाउन के बाद लोग सैलून पहुंचे।

2 महीने की बच्ची को जमीन पर रख विरोध जताया

तस्वीर चंडीगढ़ पीजीआई के कोविड सेंटर से वीरवार को 24 मरीजों को डिस्चार्ज कर दिया गया। 19 मरीजों को सूद धर्मशाला के कोविड केयर सेंटर में भेजा गया। लेकिन सेक्टर-25 की 2 महीने की बच्ची की मां ने सूद धर्मशाला में जाने से मना कर दिया। कहा,‘वहां तो समय पर खाना ही नहीं दिया जाता। मेरे जानकार हैं, वहां पर। मुझे उन्होंने बताया कि इंतजाम अच्छे नहीं हैं। दूध और खाना अच्छा नहीं मिलता, इसलिए वहां नहीं जाऊंगी।

मंदिर और मजार बंद... शादी न होने से 600 एकड़ में फूलों की फसल बर्बाद

तस्वीर पंजाब की है। जहां के पंजाब में कोरोना से फूलों की खेती भी मुरझा गई है। मंदिर, मस्जिद और मजार बंद हैं और शादियों में सजावट न होने से फूलों की खपत गिर गई है। कर्फ्यू और लॉकडाउन के बाद से फूल मंडियां भी बंद हैं। बिक्री न होने से किसान फूल फेंक रहे हैं।

बच्चों को लेकर 1 हजार किमी के सफर पर निकला ‘मजबूर’

तस्वीर लुधियाना की है। गुरुवार को एक मजदूर राशन न मिलने पर सड़क किनारे लगे लंगर व लोगों से मांगकर 2 बच्चों का पेट भरता रहा। मजदूर को देख किसी ने ट्रेन की टिकट बुक कराई, पर सीट नहीं मिली। इससे तंग होकर वह पैदल ही बच्चों को पालकी में करीब 1 हजार किमी अपने घर गोरखपुर चल दिया।

पेड़ पर मचान बनाकर किया खुद को क्वारेंटाइन

तस्वीर उदयपुर केकोटडा उपखंड के उगमणा में आंध्र प्रदेश से लौटा देवा मीणा पेड़ पर इस तरह हुआ क्वारैंटाइन।

गर्मी से बचने काइंतजाम

तस्वीर पंजाब के जीरकपुर की है। यहां से प्रवासियों को बसों से उनके घर भेजा जा रहा है। यहां अब भी सैकड़ों लोग अपनी बारी का 6 से 8 दिन से इंतजार कर रहे हैं। गर्मी से राहत पाने के लिए यहां पानी का सहारा ले रहे हैं।

बच्चों की अंगुलियों को थामकर सैकड़ों मील पैदल पहुंची महिलाएं

तस्वीर रायपुर की है। यहां के टाटीबंध चौक में महाराष्ट्र, तेलंगाना, आंध्र प्रदेश से झारखंड और बिहार जाने वाले करीब 600 मजदूर रोज आ रहे हैं। इनके साथ ऐसी मांएं हैं, जो अपने बच्चों की अंगुलियों को थामकर सैकड़ों मील पैदल चलकर भी पहुंची हैं। इन मांओं के चेहरे थकन से भरे हुए हैं, लेकिन अपने बच्चों के लिए खुद को बचाते हुए दोगुना संघर्ष किया है।



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
Garden opened in Delhi after 2 months, people reached for walk at 7 am


from Dainik Bhaskar /national/news/garden-opened-in-delhi-after-2-months-people-reached-for-walk-at-7-am-127328077.html

Post a Comment

Previous Post Next Post