राजस्थान में कोरोना संक्रमण के मामले लगातार सामने आ रहे हैं। रविवार को भी 52 नए केस सामने आए। इनमें जयपुर और अजमेर में 18-18, नागौर और डूंगरपुर में 4-4, बीकानेर और बाड़मेर में 2-2, झुंझुनू, कोटा, दौसा और जोधपुर में 1-1 पॉजिटिव मिला। जिसके बाद कुल संक्रमितों का आंकड़ा 6794 पहुंच गया। वहीं, चित्तौड़गढ़ में एक मौत भी हुई। जिसके बाद मौतों का कुल आंकड़ा 161 पहुंच गया।

कोरोना के लक्षण नहीं फिर भी पॉजिटिव मिली, अब मौत

चित्तौड़गढ़ जिले के चंदेरिया निवासी 48 वर्षीय महिला ने दम तोड़ दिया। सब्जी मंडी क्षेत्र निवासी महिला उदयपुर में 19 मई को पॉजीटिव मिली थी। इसके बाद उसका निजी अस्पताल से सरकारी एमबी अस्पताल के कोविड वार्ड में इलाज शुरू किया गया। मृतक विद्युत निगम में लाइनमैन की पत्नी है। पेट संबंधी किसी बीमारी के कारण परिजन पिछले महीने उदयपुर के गीतांजलि अस्पताल में आपरेशन कराकर 23 अप्रैल को यहां लाए थे। मई के पहले सप्ताह में चेकअप के लिए ले गए तो दो तीन दिन फिर भर्ती रही। यहां आने के बाद फिर तबियत बिगडी तो उसका शहर के एक निजी चिकित्सालय व सोनोग्राफी केंद्रों पर भी जांच व चेकअप हुआ। परिजन उसे 16 मई को वापस उदयपुर के उसी अस्पताल ले गए। जहां दो दिन बाद कोराना जांच में पॉजीटिव आई। परिवार और पड़ौसी इसलिए भी हैरान है कि पेट संबंधी बीमारी के अलावा उसमें कोरोना जैसे लक्षण नहीं दिखे थे।

कोटा में चलती ट्रेन में महिला ने बच्ची को जन्म दिया, दोनों स्वस्थ

एक महिला ने शुक्रवार को चलती हुई श्रमिक स्पेशल ट्रेन में बच्ची को जन्म दिया। कोटा में प्रसूता व बच्ची का डॉक्टर ने परीक्षण किया और दाेनाें काे स्वस्थ बताया। रेलवे ने दोनों के लिए दूध व अन्य सामग्री उपलब्ध कराई। मामला मुंबई वसई रोड से उप्र के भदोही जा रही श्रमिक स्पेशल ट्रेन का है। ट्रेन कोटा में लगभग सवा घंटे रुकी रही।

अप्रैल-मई में दोगुना गेहूं बांटा : गहलोत

कोरोना संक्रमण के इस दौर में गरीबों, असहाय व जरूरतमंदों को राशन व अन्य सामग्री वितरण के मामले में राजस्थान मॉडल स्टेट के रूप में उभरा है। अप्रैल एवं मई 2020 में गेहूं वितरण सामान्य की तुलना में दोगुना किया गया है। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने शनिवार को वीसी के जरिए से खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति विभाग की समीक्षा बैठक के दौरान यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा योजना में लाभार्थियों को दो रुपए प्रति किलो गेहूं देने का प्रावधान है, लेकिन राज्य सरकार अंत्योदय अन्न योजना, बीपीएल, स्टेट बीपीएल श्रेणी के तहत आने वाले परिवारों को मार्च 2019 से ही एक रु. प्रति किलो गेहूं उपलब्ध करा रही है। इस श्रेणी के परिवारों को 1 रुपए प्रति किलो गेहूं वितरण पर मार्च 2020 तक राज्य सरकार ने 111 करोड़ रुपए की राशि वहन की। उन्होंने कहा-लॉकडाउन में निशुल्क गेहूं वितरण पर राज्य सरकार ने 114 करोड़ रु. अतिरिक्त वहन किए गए। भारतीय खाद्य निगम से गेहूं का उठाव सामान्य की तुलना में तीन गुना किया गया।

आरटीओ ऑफिस में फिजिकल डिस्टेंस की पालनाकोरोना महामारी के चलते करीब दो महीने बाद अब प्रादेशिक परिवहन कार्यालय को नई गाइडलाइन के तहत खोलने के लिए नई व्यवस्थाएं लागू कर दी गई हैं। अब आरटीओ ऑफिस में विभिन्न कामों के लिए आने वाले लोगों को कदम-कदम पर फिजीकल डिस्टेंसिंग, शारीरिक स्वास्थ्य और स्वच्छता की गाइडलाइन को फॉलो करना होगा। आवेदकों को तय समय से 15 मिनट पहले ही कार्यालय में एंट्री दी जाएगी।

तस्वीर जोधपुर की है। जहां बिहार श्रमिक स्पेशल ट्रेन से जोधपुर से डेढ़ हजार से ज्यादा श्रमिक रवाना हुए।

जयपुर में 348 संक्रमित सुपर स्प्रेडर में से 280 नेगेटिव हुए

जयपुर में पॉजिटिव मिल चुके 348 सुपर स्प्रेडर में से 280 लोगों की जांच निगेटिव आ गई है। शेष 68 में भी दो जांच की रिपोर्ट नेगेटिव आई। इधर, पिछले दो दिन में कोई भी सुपर स्प्रेडर पॉजिटिव नहीं निकला है। सुपर स्प्रेडर के शुक्रवार को 339 और गुरुवार को 287 सैंपल लिए गए थे। इनमें शनिवार को कोई भी कोरोना पॉजिटिव नहीं निकला। शहर में 28 अप्रेल से सब्जी विक्रेता, दुकानदार और बाजार में रोजमर्रा के काम करने वाले लोगों की कोरोना जांच चल रही थी। इस दौरान 12552 लोगों के सैंपल लिए गए।

अलवर: किशनगढ़ बास में 31 शिक्षक होम क्वारेंटाइन
अलवर जिले के किशनगढ़बास के उप जिला कलेक्टर ने शिक्षा विभाग की ड्यूटी देने आए 31 शारीरिक शिक्षकों को गत एक सप्ताह से होम क्वारेंटाइन कर दिया, जबकि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने पिछले दिनों स्पष्ट किया था कि दूसरे जिलों से आए लोगों को होम क्वारेंटाइन नहीं किया जाए, लेकिन एसडीएम ने गृह मंत्रालय के आदेशों का हवाला देते हुए इन्हें होम क्वारेंटाइन किया हुआ है।

उदयपुर केएमबी में अब 400 भर्ती हुए, 4 की मौत हुई, 76 निगेटिव

एमबी की कोरोना सुपर स्पेशियलिटी विंग में अब तक संभाग के करीब 400 कोरोना पॉजिटिव रोगी भर्ती हुए हैं। इनमें से निम्बाहेड़ा के सराफा व्यापारी सहित दो, उदयपुर के बुजुर्ग और अब चित्तौड़गढ़ की महिला की कोरोना वायरस के संक्रमण के चलते मौत हो गई। वहीं उदयपुर के गायरियावास निवासी महिला कोरोना पॉजिटिव निकली थी, जिसकी दो रिपोर्ट निगेटिव आने के बाद एमबी अस्पताल में ही कैंसर से मौत हो गई थी। वहीं 400 में 150 कोरोना संक्रमित ठीक होकर अपने-अपने घर पहुंच चुके हैं।

तस्वीर श्रीगंगानगर की है। जहां बेटे केजन्मदिन परश्रमिक पापा के पास टॉफी तक के पैसे नहीं थे, एसएचओ केक लेकर पहुंचीं।

33 में से 32 जिलों में पहुंचा कोरोना, सिर्फ बूंदी जिला अब तक सेफ

  • प्रदेश में संक्रमण के सबसे ज्यादा केस जयपुर में हैं। यहां 1757 (2 इटली के नागरिक) संक्रमित हैं। इसके अलावा जोधपुर में 1237 (इनमें 47 ईरान से आए), उदयपुर में 459, कोटा में 374, डूंगरपुर में 318, नागौर में 300, अजमेर में 303, पाली में 280, चित्तौड़गढ़ में 170, टोंक में 159, जालौर में 149, भरतपुर में 135, भीलवाड़ा में 111, सिरोही में 100, राजसमंद में 88, बांसवाड़ा में 85, झुंझुनूं में 86, सीकर में 79, जैसलमेर में 78 (इनमें 14 ईरान से आए), बाड़मेर में 78, बीकानेर में 77, चूरू में 68, झालावाड़ में 59 मरीज मिले हैं।

  • उधर, दौसा में 42, अलवर में 45, धौलपुर में 38, सवाई माधोपुर में 17, हनुमानगढ़ में 14, प्रतापगढ़ में 12, करौली में 10 कोरोना मरीज मिल चुके हैं। बारां में 5 संक्रमित मिले हैं। श्रीगंगानगर में 1 पॉजिटिव मिला। जोधपुर में बीएसएफ के 50 जवान भी पॉजिटिव मिल चुके हैं। वहीं दूसरे राज्यों से आए 10 लोग पॉजिटिव मिले।
  • राजस्थान में कोरोना से अब तक 161 लोगों की मौत हुई है। इनमें जयपुर में सबसे ज्यादा 81 (जिसमें चार यूपी से) की मौत हुई। इसके अलावा, जोधपुर में 17, कोटा में 16, नागौर में 6, पाली, भरतपुर और अजमेर में 5-5, चित्तौड़गढ़ और सीकर में 4-4, बीकानेर में 3, जालौर, करौली, अलवर और भीलवाड़ा 2-2, उदयपुर, बांसवाड़ा, चूरू, प्रतापगढ़, सवाई माधोपुर और टोंक में 1-1 की मौत हो चुकी है। वहीं दूसरे राज्य से आए एक व्यक्ति की भी मौत हुई है।


आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
तस्वीर कोटा रेलवे स्टेशन की। जहां मेडिकल टीम ने जांच कर मां और बच्ची दोनों को स्वस्थ बताया।


from Dainik Bhaskar /national/news/rajasthan-coronavirus-live-updates-latest-news-cases-rise-in-jaipur-kota-ajmer-jodhpur-chittorgarh-bharatpur-bhilwara-banswara-127335010.html

Post a Comment

Previous Post Next Post