रणजी ट्रॉफी में सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले राजिंदर गोयल का रविवार को बीमारी के बाद निधन हो गया। 77 साल के बाएं हाथ के स्पिनर राजिंदर ने रणजी में 637 विकेट लिए। अब तक कोई दूसरा गेंदबाज 600+ विकेट नहीं ले सका।बीसीसीआई के अलावा कई पूर्व क्रिकेटरों ने उनकी मौत पर दुख जताया।

उन्होंने रणजी के एक सीजन में 15 बार 25+ विकेट लिए। हरियाणा के राजिंदर ने 157 मैच में 750 विकेट लिए। एक पारी में 55 रन देकर 8 विकेट उनका बेस्ट रहा। उन्होंने 59 बार 5 विकेट और 18 बार 10 विकेट लेने का कारनामा किया। उन्होंने 1037 रन भी बनाए।

वे भारत के लिए एक बार भी नहीं खेले

वे पटियाला, पंजाब और दिल्ली से भी खेले। हालांकि, उन्हें इंटरनेशनल क्रिकेट खेलने का मौका नहीं मिला। इस पर उन्होंने कहा था कि मैं गलत दौर में पैदा हुआ। बिशन सिंह बेदी के होते हुए मेरा खेलना मुश्किल था। वे महान गेंदबाज थे। इसलिए मलाल नहीं है।

टीम इंडिया के कोच रवि शास्त्री ने ट्वीट किया, शानदार गेंदबाज, जिसने सटीक लाइन लेंथ से हमेशा बल्लेबाजों को परेशान किया। दुख की इस घड़ी में उनके परिवार को सांत्वना।

वीरेंद्र सहवाग ने भी ट्वीट किया, बेहत विनम्र इंसान, 750 फर्स्ट क्लास क्रिकेट लिए, लेकिन कभी भारत के लिए नहीं खेले। उन्हें विनम्र श्रद्धांजलि।



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
राजिंदर गोयल ने 44 साल की उम्र तक फर्स्ट क्लास क्रिकेट खेला। वे दिल्ली, हरियाणा, पटियाला और दक्षिण पंजाब की टीम का हिस्सा रहे। -फाइल


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/2NkM0jo

Post a Comment

Previous Post Next Post