12 अगस्त को श्रीकृष्ण जन्माष्टमी है। कोरोना काल में अभी तक का सबसे बड़ा वर्चुअल सेलिब्रेशन 11-12 अगस्त को होने जा रहा है। इस्कॉन बेंगलुरु के साथ 5 देशों के 15 कृष्ण मंदिर दो दिन के लिए कनेक्ट होंगे। दो दिन तक अलग-अलग प्रोग्राम होंगे। इस्कॉन की योजना कार्यक्रम को अपने एक करोड़ से ज्यादा भक्तों तक पहुंचाने की है।

इस साल जन्माष्टमी पर मंदिरों में रात 12 बजे तक भक्तों के हुजूम के बीच इस बार भगवान का जन्मोत्सव नहीं होगा। इसे देखते हुए इस्कॉन बेंगलुरु अपने सभी 15 मंदिरों को एक साथ ऑनलाइन जोड़कर श्रीकृष्ण जन्मोत्सव मनाएगा। अमेरिका के 3 मंदिर, रशिया, यूनाइटेड किंग्डम, मलेशिया और सिंगापुर जैसे देशों के मंदिर इस बार यू-ट्यूब और ऑफिशियल वेबसाइट के जरिए जुड़ेंगे। इसके साथ ही फेसबुक, इंस्टाग्राम जैसे सोशल प्लेटफॉर्म्स पर भी ये प्रोग्राम दो दिन लाइव किया जाएगा। इस दौरान ये सारे प्लेटफॉर्म्स लाइव टीवी की तरह काम करेंगे।

  • एक करोड़ से ज्यादा लोगों को जोड़ने की कोशिश

हर बार मंदिर में जन्माष्टमी मनाई जाती है। एक मंदिर में अधिकतम एक से डेढ़ लाख लोग शामिल हो पाते हैं। लेकिन, इस बार अपने वर्चुअल सेलिब्रेशन से इस्कॉन दुनियाभर में करीब एक करोड़ लोगों को जोड़ने की योजना बना रहा है। इसके लिए बड़े पैमाने पर भारत सहित अन्य देशों में प्रचार किया जा रहा है।

  • पहली बार देख सकेंगे विदेशियों की प्रस्तुति

इस्कॉन के कम्यूनिकेशन हेड नवीन नीरद दास के मुताबिक इस पूरे प्रोग्राम को इस तरह से डिजाइन किया जा रहा है कि पहली बार अमेरिका, रशिया में बसे इस्कॉन के भक्त भारतीय भक्तों की प्रस्तुतियां और भारतीय भक्त विदेशियों की प्रस्तुति देख सकेंगे।

  • अक्षयपात्रा के साथ वर्ल्ड फूड प्रोग्राम

इस बार जन्माष्टमी पर इस्कॉन के अक्षयपात्रा फाउंडेशन के साथ विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) की ही एक ही ब्रांच वर्ल्ड फूड प्रोग्रम इंडिया भी जुड़ा है। इस जन्माष्टमी पर एक स्पेशल ऑनलाइन पैनल डिस्कशन में इस संगठन से जुड़े अधिकारी भी इस्कॉन के साथ शामिल होंगे। अलग-अलग विषयों पर डिबेट और प्रोग्राम रखे गए हैं। जो 11 और 12 अगस्त को ऑनलाइन देखे जा सकेंगे। इन अलग-अलग पैनल्स में अनुपम खेर, हेमा मालिनी जैसी हस्तियां भी शामिल होंगी।



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
Janmashtami 2020 Largest virtual celebrations in the Corona era, 15 ISKCON temples in 6 countries will join together, for two days to celebrate the birth of Lord Krishna


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/30WO0EX

Post a Comment

Previous Post Next Post