भारत में पहली बार समानता की बात करने वाले वैष्णव संत रामानुजाचार्य स्वामी का तेलंगाना में भव्य मंदिर बनाया जा रहा है। मंदिर 45 एकड़ में बन रहा है। इसका 80 फीसदी काम भी पूरा हो चुका है। मंदिर की लागत 1000 करोड़ से ज्यादा है।

मंदिर की खासियत है कि यहां रामानुजाचार्य की दो मूर्तियां होंगी। पहली मूर्ति अष्टधातु की, जो 216 फीट ऊंची है। वह स्थापित की जा चुकी है। इसे ‘स्टैच्यू ऑफ इक्वैलिटी’ (समानता की प्रतिमा) नाम दिया गया है। दूसरी प्रतिमा 120 किलो सोने की बनाई जा रही है। इसे मंदिर के गर्भगृह में रखा जाएगा।



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
मंदिर की खासियत है कि यहां रामानुजाचार्य की दो मूर्तियां होंगी।


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/2EEyW7I

Post a Comment

Previous Post Next Post