एक कंपनी जो इस वक्त देश में फैंटेसी स्पोर्ट्स की पर्याय है। इसी कंपनी की फैंटेसी स्पोर्ट्स मार्केट में 90% हिस्सेदारी है। वही कंपनी अब आईपीएल की टाइटल स्पॉन्सर भी है। यहां बात ड्रीम-11 की हो रही है। इस कंपनी का सफर सपनों सरीखा तो है ही, इसे बनाने वाले की कहानी भी उतनी ही रोचक है। और उतनी ही रोचक है फैंटेसी स्पोर्ट्स मार्केट की कहानी।

आज बात इन तीनों की करेंगे। शुरुआत ड्रीम-11 का ड्रीम देखने वाले की कहानी से। एक लड़का 2008 में एक कंपनी बनाता है। 2012 में फैंटेसी स्पोर्ट्स सेगमेंट में उतरता है। उस वक्त जब देश में इसके बारे में बहुत ही कम लोग जानते थे। 2013 में वो अपने लिए इन्वेस्टर तलाश रहा था। साथ ही कोलंबिया बिजनेस स्कूल से पढ़ाई भी कर रहा था। वो चाहता तो बड़ी आसानी से पिता से कंपनी के लिए फंड जुटा सकता था। लेकिन, उसे अपने दम पर कंपनी खड़ी करनी थी।

उसने फंड भी जुटाया और अपनी कंपनी को देश में फैंटेसी स्पोर्ट्स का पर्याय भी बनाया। ये लड़का कोई और नहीं ड्रीम-11 के को-फाउंडर हर्ष जैन हैं। अगर बात देश के फैंटेसी स्पोर्ट्स मार्केट की होगी तो उसकी कहानी भी ड्रीम-11 के बिना पूरी नहीं होगी। 2016 तक इस सेगमेंट में दस से भी कम कंपनियां थीं। आज 140 से अधिक कंपनियां हैं।

पिछले चार में फैंटेसी स्पोर्ट्स मार्केट 9 गुना बढ़ा है। चार साल पहले इसका कुल मार्केट 1,743 करोड़ का था। देशभर में सिर्फ 20 लाख लोग फैंटेसी स्पोर्ट्स खेलते थे। आज इसका मार्केट 16,467 करोड़ रुपए का हो गया है। इसे खेलने वाले 9 करोड़ से ज्यादा लोग हैं। उसमें भी करीब 8 करोड़ यूजर तो अकेले ड्रीम-11 के पास हैं।

खेलने वाले भी कमा रहे

इस आभासी खेल को खेलने वाले लगातार बढ़ रहे हैं। इसके साथ ही इन लोगों की कमाई भी बढ़ रही है। 2016 में इसे खेलने वालों ने 350 करोड़ रुपए कमाए थे। 2019-20 में यूजर्स की कमाई का आंकड़ा करीब चौदह हजार करोड़ रुपए तक पहुंच गया। फैंटेसी स्पोर्ट्स के यूजर सबसे ज्यादा क्रिकेट खेलते हैं। लेकिन, बाकी खेलों में भी यूजर्स लगातार बढ़ रहे हैं।

कंपनियों से ज्यादा कमाई यूजर कर रहे

पिछले तीन साल में फैंटेसी स्पोर्ट्स मार्केट मार्केट नौ गुना हो गया है। इस सेगमेंट में काम करने वाली कंपनियों की कमाई इस वक्त ढाई हजार करोड़ रुपए के करीब है। कंपनियों कमाई से करीब तीन गुना कमाई इसे खेलने वाले यूजर्स कर रहे हैं। पिछले साल इसे खेलने वाले यूजर्स ने करीब 14 हजार करोड़ रुपए जीते।

फैंटेसी स्पोर्ट्स मार्केट बढ़ने के साथ इस सेगमेंट में रोजगार भी बढ़ रहा

2016-17 तक इस सेगमेंट से डायरेक्ट और इनडायरेक्ट करीब 1500 लोगों का रोजगार चल रहा था। इस वक्त इस सेगमेंट में 3,400 लोग काम करे हैं। करीब 5100 लोगों का रोजगार इनडायरेक्ट रूप से फैंटेसी स्पोर्ट्स मार्केट से चल रहा है।



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
Fantasy Dream11 IPL Sponsor Market Share Size In India 2020 | How Many Fantasy User In India? Top Five Sports Cricket Websites List From My 11 Circle, Hallplay, Fanfight


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/2Yij15N

Post a Comment

Previous Post Next Post