देश में कोरोना के अब रोजाना 55 हजार से ज्यादा केस आ रहे हैं, इस बीच देश में अनलॉक 3 भी शुरू होने जा रहा है। लेकिन चार महीने से घर पर बैठे फिटनेस प्रेमियों के लिए अच्छी खबर है। सरकार ने 5 अगस्त से जिम और योगा सेंटर्स को दोबारा खोलने की अनुमति दे दी है। हालांकि, एक्सपर्ट्स अभी लोगों को जिम में जाने से बचने और आउटडोर एक्सरसाइज की सलाह दे रहे हैं। कहते हैं कि जिम जाने से पहले खुद को मानसिक तौर पर मजबूत बनाना होगा और कोरोना के डर को मन से निकालना होगा।

अपने-अपने स्तर पर तैयार हैं जिम ओनर्स
5 अगस्त से जिम खोलने के फैसले के बाद जिम ओनर्स भी अपने क्लाइंट्स की सुरक्षा और बिजनेस की वापसी के लिए तैयार हैं। भोपाल में जिम संचालक और ट्रेनर अमरीक कहते हैं "हमने हमारे सभी मेंबर्स को मैसेज कर मास्क, सैनिटाइजर और ग्लव्ज लाने को बोल दिया है। जिम में टैम्परेचर जांचने वाली गन और सैनिटाइजेशन की व्यवस्था कर ली गई है।'

जिम में जाएं तो इन 7 बातों का ध्यान जरूर रखें

  1. सतहों की सफाई: जिम में एक्सरसाइज के दौरान अपने साथ-साथ जिम की दूसरी सतहों को भी साफ करें। हालांकि एक्सपर्ट्स के अनुसार, मेटल और आकार के कारण जिम के उपकरणों को साफ करना मुश्किल है, लेकिन हम अपनी आदतें बदलकर जोखिम को कम कर सकते हैं।
  2. डिसइंफेक्टेंट का उपयोग: जिम में डिसइंफेक्टेंट स्प्रे, सैनिटाइजर और वाइप्स होनी चाहिए। इससे एक्सरसाइज करने वाला व्यक्ति खुद ही अपने लिए सुरक्षित माहौल तैयार कर लेगा। याद रखें जब भी किसी सतह पर डिसइंफेक्टेंट लगाएं तो थोड़ी देर रुकें, ताकि जर्म्स साफ हो सकें।
  3. खुद का पानी लेकर जाएं: जिम में पानी पीने के बर्तनों जैसी चीजों का उपयोग करने से बचें। अपने घर से अपनी बॉटल और पानी साथ लेकर जाएं। इससे आप बार-बार छूई जाने वाली किसी भी सतह से दूरी बना कर रख सकेंगे।
  4. मशीनों की सफाई: अगर किसी सतह पर गंदगी जमी हुई है तो वहां सीधे सैनिटाइजर या डिसइंफेक्टेंट का उपयोग न करें। पहले सतह को साफ करें और दिखाई दे रही गंदगी को हटाएं। जिम में भी हर जगह सैनिटाइजर और हैंड वॉश मौजूद होना चाहिए। किसी भी मशीन को उपयोग से पहले और बाद में भी साफ करें।
  5. सैनिटाइज्ड टॉवेल साथ रखें: जिम में मौजूद कपड़ों का इस्तेमाल न करें। एक्सरसाइज करने के लिए जाने से पहले घर से सैनिटाइज्ड टॉवेल साथ लेकर जाएं। हो सके तो एक से ज्यादा टॉवेल या कपड़ा लेकर जाएं, ताकि एक से आप चेहरे और पसीने को साफ कर पाएंगे और दूसरे का इस्तेमाल बेंच को कवर करने के लिए करें।
  6. कम भीड़ वाली जिम चुनें: ऐसे जिम में जाने का प्रयास करें जहां कम से कम लोग हों और ऐसा वक्त चुनें जब एक्सरसाइज हॉल में भीड़ न जुटे। अगर मुमकिन हो तो अपने ट्रेनर या जिम ऑनर से बात कर अपना टाइम बदलवा लें। इससे एक्सरसाइज के दौरान सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना आसान होगा।
  7. नॉन एसी में एक्सरसाइज: एसी में एक्सरसाइज करने से बचें। वो लोग जो जिम जाने की शुरुआत करने के बारे में सोच रहे हैं, वे नॉन एसी जिम को ही प्राथमिकता दें। इसके अलावा जिम में क्रॉस वेंटिलेशन की भी जांच कर लें। इससे आपको कई तरह से सुरक्षा मिलेगी।

जिम ओनर्स एसोसिएशन ने दिल्ली और केंद्र सरकार को 8 प्वाइंट्स का एसओपी सौंपा है

  1. जिम में आने वाले सदस्यों को भीड़ से बचने के लिए स्लॉट्स बुक करना होगा।
  2. जिम के अंदर सीमित संख्या में लोगों को आने की अनुमति मिलेगी। यह जिम के एरिया पर निर्भर होगा। बड़े जिम्स में भी 15 से ज्यादा लोगों को आने की अनुमति नहीं होगी।
  3. एंट्री पर थर्मल स्क्रीनिंग होगी।
  4. मास्क का उपयोग करना जरूरी है।
  5. फ्लोर एक्सरसाइज के दौरान सोशल डिस्टेंसिंग रूल फॉलो करना जरूरी है।
  6. जिम के अंदर शॉवर नहीं चलाए जाएंगे।
  7. मेंबर्स को अपनी खुद की पानी की बोतल लानी होगी।
  8. हर 40 से 45 मिनट के अंतराल में सैनिटाइजेशन होगा।

मुश्किल में थे जिम मालिक

जिम बंद होने के कारण कई फिटनेस प्रोफेशनल्स हेल्थ के अलावा अपनी कमाई को लेकर भी काफी परेशान थे। राजस्थान में उदयपुर जिम एसोसिएशन के अध्यक्ष पवन सुखवाल ने बताया कि कोरोना के चलते पिछले 5 माह से जिम बंद हैं। कोई कमाई ना होने से जिम संचालक अभी जिम का किराया, ट्रेनर और दूसरे स्टाफ के लोगों को सैलेरी देने की हालात में नहीं हैं। जिम का हर महीने का लाखों रुपए का किराया है।

जहां एक साथ कई लोग पसीना बहा रहे हैं, वहां फैल सकती है बीमारी
एक स्टडी ने शोधकर्ताओं ने पाया था कि चार अलग-अलग एथलेटिक ट्रेनिंग सुविधाओं में 25 फीसदी सतहों पर फ्लू वायरस, बैक्टीरिया और दूसरे पैथेजन्स मिले थे। एक्सपर्ट्स बताते हैं कि जिस जगह पर कई लोग एक साथ एक्सरसाइज करते हैं और पसीना बहाते हैं, वहां ट्रांसमिशन वाली बीमारी फैल सकती है।

पुरानी और नई मेंबरशिप में बैलेंस बनाना चुनौती

  • महीनों से जिम बंद होने के कारण कई जिम ओनर्स की आर्थिक स्थिति खराब हो गई है। उनका कहना है कि लॉकडाउन के शुरुआती दौर में मानसिक तौर पर हमने इस नुकसान को संभाल लिया, लेकिन लगातार बढ़ रही पाबंदियों के कारण नुकसान ज्यादा हुआ है।
  • अमरीक सिंह के मुताबिक, अगर जिम में आने वाले मेंबर्स दो महीने की फीस दे देते हैं तो उन्हें जिम जारी रखने में आसानी होगी। हालांकि, उन्होंने कहा कि किसी की मेंबरशिप में कोई कटौती नहीं होगी, जिम में आने वाले लोग पहले की तरह ही अपनी मेंबरशिप जारी रख सकेंगे।


आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
Gym Reopening Guidelines Coronavirus Latest News Updates | Know What Are Some Gym Safety Precautions Against COVID


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/3hPcjvk

Post a Comment

Previous Post Next Post