संत ऑगस्टिन ने कहा है "दुनिया एक किताब है और जो लोग यात्रा नहीं करते हैं, वो केवल एक पन्ना ही पढ़ पाते हैं"। यात्रा किसी के जीवन का अहम हिस्सा है तो किसी का साल में एक बार पूरा करने वाला जरूरी काम है। हालांकि, कोरोनावायरस फैलने के बाद से ही लोगों के जीवन से एक्सप्लोरिंग नाम की चीज जैसे खत्म ही चुकी है। हालात अभी भी सुधरे नहीं हैं, लेकिन उत्तराखंड और हिमाचल में पहाड़ी वादियों ने पर्यटकों के लिए दरवाजे खोल दिए हैं।

होटल स्टाफ की मदद करें और आरोग्य सेतु साथ रखें

  • दोनों राज्यों में यात्रा के दौरान अपने फोन में आरोग्य सेतु ऐप रखना जरूरी है। इसके अलावा होटल पहुंचने के बाद सावधानी रखें। हो सके तो लिफ्ट की जगह सीढ़ियों से जाएं। अगर लिफ्ट का इस्तेमाल कर रहे हैं तो सोशल डिस्टेंसिंग और मास्क का खास ख्याल रखें।
  • हिमाचल सरकार की गाइडलाइंस के मुताबिक, अगर आपको छींक या खांसी आ रही है तो होटल आपको चेक-इन करने से मना नहीं करेगा। आपको मेडिकल सुविधा की पेशकश करेगा। अगर आपकी बीमारी ज्यादा समय तक बनी रहती है तो होटल कोरोना हेल्पलाइन नंबर पर कॉल करेगा और रूम के साथ पूरे फ्लोर को लॉक कर दिया जाएगा।

हर साल उत्तराखंड में तीन करोड़ से ज्यादा पर्यटक आते थे

  • ट्रेवलर्स के बीच उत्तराखंड और हिमाचल प्रदेश खासी लोकप्रिय जगह हैं। यहां हर साल टूरिस्ट्स की संख्या करोड़ों में होती है। हालांकि, कोरोनावायरस ने सफर पर लंबा ब्रेक लगा दिया है।
  • 2019 में उत्तराखंड पहुंचने वाले टूरिस्ट की संख्या 3 करोड़ 77 लाख 38 हजार थी। इसमें से 1 लाख 52 हजार 273 पर्यटक विदेश से आए थे।
  • 2019 में हिमाचल प्रदेश में कुल 1 करोड़ 72 लाख 12 हजार 107 टूरिस्ट पहुंचे थे। इनमें से 3 लाख 82 हजार 876 पर्यटक विदेशी थे। 2018 से तुलना की जाए तो हिमाचल में 2019 में टूरिस्ट 4.63 फीसदी बढ़े।

घूमने जाएं तो किन बातों का रखें ध्यान?

अन्य राज्यों में घूमने जाएं तो किन बातों का रखें ध्यान?

  • महामारी के दौरान हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड के अलावा अन्य राज्यों में भी आप टूरिज्म कर सकते हैं। इनमें गोवा, राजस्थान, मध्य प्रदेश शामिल हैं। हालांकि इन राज्यों में जाने से पहले आपको सावधानी और डॉक्युमेंट्स का पूरा ध्यान रखना होगा।
  • मध्य प्रदेश ने बड़े नेशनल पार्क खोल दिए हैं। लेकिन, यहां आपको मास्क और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना होगा। इतना ही नहीं किसी भी टूरिस्ट प्लेस के गेट पर ही स्क्रीनिंग होगी। अगर आप अस्वस्थ हैं तो आपको अंदर जाने से रोका जा सकता है। यहां टूरिज्म रजिस्टर्ड गाड़ियों में एक परिवार के 6 तो अलग-अलग परिवारों के 4 लोग ही बैठ सकेंगे।
  • पुराने महलों और किलों पर्यटन के लिए मशहूर राजस्थान में भी नियम समान हैं। आपको टूरिस्ट प्लेस पर एंट्री से पहले स्क्रीनिंग से गुजरना होगा और एक समूह में 5 लोगों से ज्यादा की इजाजत नहीं है।
  • हिमाचल प्रदेश की तरह ही गोवा में भी यात्रियों को पहले से ही होटल के कमरे बुक करवाने होंगे और साथ में निगेटिव कोरोना सर्टिफिकेट भी साथ रखना होगा। अगर आपने गोवा जाने से पहले जांच नहीं कराई है तो सीमा पर ही टेस्ट होगा और पॉजिटिव आने पर वापस भी भेजा जा सकता है।


आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
Himachal and Uttarakhand open doors for tourists, keep Covid 19 negative reports along


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/30QTNx1

Post a Comment

Previous Post Next Post