जयपुर में बारिश के बाद जेएलएन मार्ग का एक बस स्टैंड और वहां लगा स्वच्छता सर्वेक्षण में वोटिंग की अपील वाला बोर्ड गंदगी से पट गया। नजारा ऐसा बना मानो गंदगी नगर निगम को मुंह चिढ़ाते हुए कह रही हो कि जब तक ऐसे हाल रहेंगे तब तो बन लिया जयपुर नंबर वन।

प्रह्लादपुर अंडर पास में फंसे दो बस और ट्रक

दिल्ली-एनसीआर में लगातार दो दिनों से बारिश का सिलसिला जारी है। 24 घंटे से लगातार रुक-रुक कर हो रही बारिश से जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया है। इस बारिश से लोगों को गर्मी से तो राहत मिली है लेकिन भारी बारिश के कारण दिल्ली की सड़कें तालाब में तब्दील हो गई है। बारिश के कारण 30 से अधिक पेड़ गिर गए तो सड़कों पर कई फीट तक पानी भर जाने के कई रास्ते बंद कर दिए गए हैं। लगातार हाे रही बारिश के कारण प्रह्लादपुर अंडर पास में आज फिर से पानी भर गई और उसमें दो बसें और एक ट्रक सहित कई वाहन फंस गई।

परिवार को दौलताबाद गौशाला में रखा

दौलताबाद गांव में बाढ़ जैसे हालात बनने पर एक परिवार फंस गया। सिविल डिफेंस की टीम ने रेस्क्यू ऑपरेशन चलाकर इस परिवार को सकुशल निकाल लिया। फिलहाल, परिवार को दौलताबाद गौशाला में रखा गया है। उनके रहने की व्यवस्था होने तक गौशाला संचालकों ने उन्हें गौशाला में ही रखने की दरियादिली दिखाई।

सिविल डिफेंस की टीम मौके पर पहुंची। जहां परिवार रह रहा था। वहां करीब 3 से 5 फुट पानी भरा हुआ था। सिविल डिफेंस की टीम ने 20 लीटर की पानी की प्लास्टिक की बोतलों पर बांस की पट्टियां बांधकर नाव तैयार की। उस नाव पर इस परिवार के लोगों को बैठा कर पानी से बाहर लाया गया।

23 में से 20 गेट खुले

फोटो माताटीला बांध की है। पिछले कुछ दिन से लगातार हो रही तेज बारिश से माताटीला बांध लबालब हो गया। जिसके चलते बुधवार-गुरुवार रात बांध के 23 में से 20 गेट छह फीट की ऊंचाई तक खोले गए। पहले 29 हजार क्यूसेक पानी छोड़ने का निर्णय लिया गया लेकिन जब पानी बढ़ता गया तो 86 हजार और अंत में कुल 1 लाख 86 हजार क्यूसेक पानी छोड़ने का निर्णय लिया गया।

जिस तरह धीरे धीरे पानी बढ़ाया गया, उसी तरह धीरे-धीरे कम किया गया। बता दें कि माताटीला बांध उत्तरप्रदेश के ललितपुर और मध्यप्रदेश के शिवपुरी जिले में बना है। जब बांध के गेट खोले जाते हैं तो यूपी-एमपी बॉर्डर बेतवा नदी से निकलता है।

गणेश चतुर्थी को लेकर लोग खासे उत्साहित

शनिवार को गणेश चतुर्थी है। इस दिन भगवान श्री गणेश की पटले पर लाल कपड़ा बिछाकर उनकी स्थापना की जाती है। हरि घास, मोदक और मीठे पान का भगवान को भोग लगाया जाता है। भगवान गणेश की स्थापना के दौरान बीज मंत्र का जप भी अच्छा माना गया है। चंडीगढ़ के श्री शिव खेड़ा शिव मंदिर के पुजारी पंडित सुभाष चंद्र शर्मा बताया कि गणेश उत्सव के दौरान सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें और भगवान का आशीर्वाद लें। गणेश चतुर्थी को लेकर लोग खासे उत्साहित हैं। लोगों ने मूर्तियों को घर ले जाना शुरू कर दिया है।

बारिश के बाद पारा 30.2 डिग्री हुआ

क्षितिज का यह नजारा रैवासा झील से हमारे फोटो जर्नलिस्ट विशाल सैनी ने क्लिक किया है। क्षितिज दरअसल वो आभासी दृश्य होता है, जहां जमीन और आसमान मिलते हुए नजर आते हैं। हालांकि ऐसा होता नहीं है। गुरुवार को रैवासा झील पर भी ऐसा ही नजारा था। ऐसा लग रहा था मानो छितराए हुए बादल बरसने के लिए जमीन पर उतर आए हों।

भर गया चित्रकोट, कोरोना के कारण नहीं आ रहे लोग

2 दिनों से हो रही भारी बारिश के चलते छत्तीसगढ़ का नियाग्रा कहा जाने वाला चित्रकोट जलप्रपात इन दिनों पूरे शबाब पर है। जलप्रपात अपने पुराने स्वरूप में आ गया है, जहां अब ऊपर से पानी गिरने के साथ ही झरना तेज गर्जना कर रहा है। हालांकि कोरोना संक्रमण के चलते लोगों को यहां आने नहीं दिया जा रहा है।



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
Board on appeal for voting in cleanliness survey at bus stop in Jaipur, dirt


from Dainik Bhaskar /local/delhi-ncr/news/board-on-appeal-for-voting-in-cleanliness-survey-at-bus-stop-in-jaipur-dirt-127636541.html

Post a Comment

Previous Post Next Post