(मनीषा भल्ला) एंटरटेनमेंट सेक्टर देश में तेजी से बढ़ रहा है। साल 2023 तक ओटीटी इंडस्ट्री में 45% ग्रोथ की संभावना है। कोरोना ने तो इस संभावना को दोगुना कर दिया है। हालांकि, पहले जहां देश में अमेजॉन और नेटफ्लिक्स जैसे विदेशी प्लेटफॉर्म्स का ही दबदबा था, वहीं, अब ओरिजनल कंटेंट के मामले में भारतीय प्लेटफॉर्म्स उन्हें कड़ी टक्कर दे रहे हैं।

कुछ भारतीय ओटीटी प्लेटफॉर्म तो इनसे आगे ही हैं। लेट्सओटीटीग्लोबल डॉट कॉम की मलेशिया स्थित संपादक डॉ. सुनीता कुमार बताती हैं कि भारत में करीब एक से डेढ़ साल पहले 40 ओटीटी प्लेटफॉर्म थे, लेकिन अब इनकी संख्या दोगुनी होकर 80 से भी ज्यादा हो गई है।

पांच महीनों में 30% की ग्रोथ

  • नए भारतीय प्लेटफॉर्म में तेलुगु कंटेंट वाला एप आहा, उड़िया कंटेंट वाला प्लेटफॉर्म ऑले और बंगाली ओटीटी प्लेटफॉर्म हॉयचॉय जैसे एप प्रमुख हैं। दक्षिण के फिल्म प्रोड्यूसर सीवी कुमार ने भी रीगल टॉकीज़ नाम से नया प्लेटफॉर्म लॉन्च किया है। वहीं, यशराज फिल्म्स का ओटीटी लॉन्च होने वाला है। मार्च से लेकर जुलाई तक देश में ओटीटी सेक्टर में 30 फीसदी की ग्रोथ देखी गई।
  • रेडसीर कंसल्टिंग की एक रिपोर्ट बताती है कि भारत में इस दौरान सब्सक्राइबर की संख्या 22.2 मिलियन से बढ़कर 29 मिलियन हो गई। भारतीय ओटीटी प्लेटफॉर्म ऑल्ट बालाजी की सीनियर वाइस प्रेज़ीडेंट (डायरेक्ट रेवेन्यू, मार्केटिंग एंड एनालेटिक्स) दिव्या दीक्षित बताती हैं ‘ऑल्ट बालाजी की लाइब्रेरी में 64 ऑरिजनल सीरीज़ हैं। हमारे कंटेंट के बल पर आज हमारे पास 8.5 मिलियन मासिक से ज्यादा एक्टिव यूज़र हैं और 35 मिलियन सब्सक्राइबर हैं।

भारतीय ओटीटी प्लेटफॉर्म हंगामा डिजीटल मीडिया के सीओओ सिधार्थ रॉय के अनुसार भारतीय ओटीटी प्लेटफॉर्म के बाजार के बढ़ने की एक बड़ी वजह ऑरिजनल कंटेंट (ऑरिजनल सीरीज़) है। क्षेत्रिय भाषाओं में भी कंटेट परोसने से बाज़ार ने और तरक्की की है। कोरोना की वजह से वर्क फ्रॉम होम ने इस इंडस्ट्री को और पुश किया है। हंगामा पर कोरोना काल में कुल 66 फीसदी सब्सक्राइबर बढ़े हैं। जिसमें टायर-2 सिटी में 65 फीसदी और टायर-3 सिटी में 86 फीसदी सब्सक्राइबर बढ़े।

ऐसे हैं देशी-विदेशी में मुकाबला
फिल्म-ओटीटी ट्रेड एनालिस्ट गिरीश वानखेड़े बताते हैं, ‘हाल ही में डिज्नी हॉटस्टार पर आई सड़क-2, खुदा हाफिज़ फिल्में पिट गईं, नेटफलिक्स की मिसीज़ सीरीयल किलर, घोस्ट सीरीज की भी आलोचना हुई। अमेजॉन प्राइम पर आई पेंगुइन और लॉ दर्शकों ने नकार दीं। वहीं, भारतीय ओटीटी प्लेटफॉर्म एमएक्स प्लेयर पर आई ऑरिजनल वेबसीरीज़ ‘एक थी बेगम’ और ‘आश्रम’ ने कुछ ही दिनों में रिकॉर्ड कायम कर दिया। दूसरे ओटीटी पर भी अच्छा कंटेंट आया।



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
OTT platform doubled in one and half year, Indian OTT ahead in original content


from Dainik Bhaskar /national/news/ott-platform-doubled-in-one-and-half-year-indian-ott-ahead-in-original-content-127714750.html

Post a Comment

Previous Post Next Post