क्या हो रहा है वायरल : सोशल मीडिया पर एक बयान रतन टाटा का बताकर शेयर किया जा रहा है। इस बयान में लिखा है - 2020 सिर्फ जीवित रहने का वर्ष है, लाभ और हानि के बारे में चिंता मत करो, अपने आपको जीवित रखना सबसे ज्यादा जरूरी है। बताया जा रहा है कि ये बयान रतन टाटा ने देश के सभी व्यापारियों के लिए जारी किया है।

और सच क्या है ?

  • अलग-अलग की-वर्ड सर्च करने से भी हमें इंटरनेट पर रतन टाटा का ऐसा कोई इंटरव्यू नहीं मिला। जिसमें उन्होंने वह बयान दिया हो, जो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। ​​​​​
  • पड़ताल के दौरान हमें पता चला कि चार महीने पहले भी कई सोशल मीडिया यूजर ने रतन टाटा के नाम से यही बयान शेयर किया था।
  • रतन टाटा का मीडिया में दिया ऐसा कोई बयान जब हमें नहीं मिला, तो हमने उनके सोशल मीडिया हैंडल्स चेक करना शुरू किए। 3 मई को रतन टाटा ने खुद ट्वीट कर अपने नाम पर वायरल हो रहे इस मैसेज को फेक बताया है।
  • रतन टाटा के ट्वीट का हिंदी अनुवाद है - यह मेरे द्वारा नहीं कहा गया है। जितना हो सकेगा मैं फेक न्यूज़ को सामने लाऊंगा। लेकिन, आपको भी खबर के सोर्स को हमेशा चेक करना चाहिए। मेरी तस्वीर इसकी गारंटी नहीं है कि वह बात मैंने ही कही हो।


आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
Fact check: Did industrialist Ratan Tata ask traders not to worry about profit and loss in the Corona era? Ratan Tata himself called this statement fake


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/3hkoq37

Post a Comment

Previous Post Next Post