क्या हो रहा है वायरल : सोशल मीडिया पर दावा किया जा रहा है कि राजस्थान के स्कूलों में हिंदी, उर्दू व पंजाबी भाषा की पढ़ाई बंद होगी। वायरल मैसेज के साथ एक खबर की कटिंग भी शेयर की जा रही है। इस खबर के अनुसार, नई शिक्षा नीति में एक तरफ जहां थ्री लैंग्वेज फॉर्मूले की बात हो रही है। वहीं, राजस्थान के सरकार स्कूलों में तीन अहम भाषाओं की पढ़ाई बंद हो रही है।

और सच क्या है ?

  • अलग-अलग की-वर्ड सर्च करने से भी इंटरनेट पर हमें ऐसी कोई खबर नहीं मिली। जिससे पुष्टि होती हो कि राजस्थान के स्कूलों में उर्दू, पंजाबी और सिंधी भाषा की पढ़ाई बंद होगी।
  • राजस्थान सरकार के शिक्षा विभाग की ऑफिशियल वेबसाइट भी हमने चेक की। यहां पिछले दो महीने में जारी किए गया ऐसा कोई नोटिस या सर्कुलर हमें नहीं मिला। जिससे दावे की पुष्टि होती हो।
  • वायरल हो रही खबर की कटिंग पत्रिका अखबार की है। पत्रिका की ही वेबसाइट पर 6 सितंबर की खबर में स्पष्ट किया गया है कि उर्दू, पंजाबी और सिंधी की पढ़ाई बंद नहीं होगी।
  • पत्रिका की वेबसाइट पर पब्लिश की गई संशोधित खबर के अनुसार, कक्षा 6वीं से 8वीं के छात्रों के पास तीसरी भाषा खुद चुनने की छूट होगी। इन सबसे स्पष्ट है कि सोशल मीडिया पर किया जा रहा दावा फेक है।


आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
Fact Check: Will Urdu, Punjabi and Sindhi languages no longer be taught in Rajasthan schools? This claim is fake


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/326VsPw

Post a Comment

Previous Post Next Post