अमेरिका ने कहा है कि भारत और चीन के बीच जारी सीमा विवाद और तनाव पर उसकी नजर है। इसके साथ ही उसने चीन पर फिर आरोप लगाया कि वो अपने पड़ोसियों को धमकाने की कोशिश कर रहा है। अमेरिकी विदेश विभाग ने बुधवार को कहा- ताइवान स्ट्रेट से लेकर शिनजियांग, साउथ चाइना सी से लेकर हिमालय और सायबरस्पेस से लेकर इंटरनेशनल ऑर्गनाइजेशन तक, चीन अपने नागरिकों और पड़ोसियों को धमका रहा है।

अमेरिकी विदेश विभाग ने इस बयान के साथ यह भी साफ कर दिया कि इस तरह के मामलों से निपटने का सबसे बेहतर तरीका है कि चीन के खिलाफ खड़ा हुआ जाए।

हालात पर करीबी नजर
न्यूज एजेंसी एएनआई से बातचीत में अमेरिकी विदेश विभाग के प्रवक्ता ने भारत और चीन के बीच जारी सीमा विवाद और तनाव पर चर्चा की। कहा- हम हालात पर करीबी नजर रख रहे हैं। उम्मीद करते हैं कि यह मामला शांति से निपट जाएगा। विदेश मंत्री माइक पोम्पियो कई बार कह चुके हैं कि चीन घरेलू और अंतरराष्ट्रीय मुद्दों पर आक्रामक रवैया अपना रहा है। यह उसका पैटर्न बन गया है।

दमन पर उतारू कम्युनिस्ट पार्टी
अमेरिकी विदेश विभाग के प्रवक्ता के मुताबिक, चीन एक साथ कई जगह दबाव और दमन की रणनीति इस्तेमाल कर रहा है। प्रवक्ता ने कहा- ताइवान स्ट्रेट से शिनजियांग, दक्षिण चीन सागर से हिमालय और सायबरस्पेस से लेकर इंटरनेशनल ऑर्गनाइजेशन्स तक, हम चीन की कम्युनिस्ट पार्टी की हरकतें देख रहे हैं। वो अपने लोगों और पड़ोसियों को धमका रहा है। इस तरह की भड़काऊ चीजों से निपटने का एक ही तरीका है कि चीन को जवाब दिया जाए, उसके खिलाफ आवाज उठाई जाए।



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
भारत और चीन के बीच लद्दाख में बढ़ते तनाव के मद्देनजर भारतीय सेना ने यहां तैनाती बढ़ा दी है। फोटो सोमवार को लेह हाइवे पर भारतीय सेना के ट्रक की है। ऐसे कई ट्रक लेह से लद्दाख की तरफ जाते देखे गए।


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/34ZdLrR

Post a Comment

Previous Post Next Post