कोरोना के बीच संसद के पहले सत्र (मानसून) का आज चौथा दिन है। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह आज राज्यसभा में भारत-चीन सीमा विवाद पर बयान देंगे। इससे पहले मंगलवार को राजनाथ ने लोकसभा में भी इस मुद्दे पर अपनी बात रखी थी। उन्होंने कहा था, "अभी की स्थिति के मुताबिक, चीन ने एलएसी और अरुणाचल से लगे अंदरुनी इलाकों में बड़ी संख्या में सैनिक और गोला-बारूद जमा कर रखे हैं। हमारी सेना की तैयारी भी पूरी है।"

सर्वदलीय बैठक में चीन पर चर्चा नहीं हुई
सरकार ने बुधवार को सर्वदलीय बैठक बुलाई। इसमें तय हुआ कि रक्षामंत्री भारत-चीन विवाद पर राज्यसभा में गुरुवार को बयान देंगे। कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद ने कहा, "बैठक में चीन पर कोई चर्चा नहीं की गई। हमने सरकार से कुछ विधेयकों के परीक्षण को कहा है।"

कांग्रेस का आरोप- सरकार ने गलवान के शहीदों का अपमान किया
गृह राज्य मंत्री नित्यानंद राय ने बुधवार को संसद में एक प्रश्न के जवाब में बताया कि पिछले 6 महीने में भारत-चीन सीमा पर कोई घुसपैठ नहीं हुई। उनके इस बयान से सदन के बाहर कांग्रेस सरकार पर हमलावर हो गई। कांग्रेस के राज्यसभा सदस्य नासिर हुसैन और प्रवक्ता पवन खेड़ा ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि सदन में यह बयान गलवान घाटी की झड़प में शहीद हुए जवानों का अपमान है।



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
राजनाथ सिंह ने मंगलवार को लोकसभा में कहा था कि पूर्वी लद्दाख के कई इलाकों में चीन के साथ तनाव है। इन इलाकों में हमारी सेना पूरी तैयारी के साथ तैनात है।


from Dainik Bhaskar /national/news/parliament-monsoon-session-rajya-sabha-and-lok-sabha-news-and-updates-17-september-2020-127727151.html

Post a Comment

Previous Post Next Post