हांगकांग में मंगलवार से कोरोना की बड़े पैमाने पर टेस्टिंग शुरू कर दी गई। यह चीन सरकार की एक बड़ी योजना है। हालांकि, कई लोकतंत्र समर्थक नेताओं का कहना है कि चीन इसके जरिए हांगकांग के लोगों का डीएनए जमा कर रहा है। इन नेताओं ने इस टेस्टिंग का बहिष्कार कर दिया है।

एक नेता जोशुआ वॉन्ग ने कहा कि सरकार साजिश कर हमारा डीएनए टेस्ट कर रही है। एक अन्य ने कहा कि सरकार यह नहीं बता रही है कि किस तरह वह लोगों का डेटा जमा करेगी। जबकि चीन सरकार इसे स्वैच्छिक टेस्टिंग बता रही है।

उसका कहना है कि हम किसी का निजी डेटा नहीं हासिल कर रहे हैं। हांगकांग के बजाय चीन के अन्य क्षेत्रों के मेडिकल स्टाफ को इस योजना में लगाया गया है। शनिवार को इस टेस्ट के रजिस्ट्रेशन की शुरुआत हुई थी। अब तक 5.53 लाख से अधिक लोगों का इसके लिए रजिस्ट्रेशन किया जा चुका है। हांगकांग की आबादी 75 लाख है।



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
हांगकांग में 100 टेस्टिंग सेंटर बनाए गए हैं। 500 वॉलंटियर तैनात हैं।


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/2YYEK2Z

Post a Comment

Previous Post Next Post